बोलती ज़िंदगी

अपनी रचना प्रकाशित करने के लिए, रचना को Whats App या Email के माध्यम से भेजें

From the Blog

हमारी website पर हाल मे ही प्रकाशित रचनाएं । और अधिक रचनाओं को देखने के लिए More Posts पर click करें

मानसिकता लघुकथा- सुधीर श्रीवास्तव

कोई हल तो होगा- जितेन्द्र ' कबीर '

कुर्सी का चक्कर है प्यारे .- विजय लक्ष्मी पाण्डेय

डॉ. राजेंद्र प्रसाद- सुधीर श्रीवास्तव

दोनों बातें खतरनाक हैं- जितेन्द्र 'कबीर'

सूनापन अखरता"- अनीता शर्मा

Common questions

*आप लोगों के द्वारा पूछे गए कुछ प्रश्न और उत्तर More

  • बोलती ज़िंदगी एक साहित्यिक वेबसाईट है । जिसका उद्देश्य साहित्य को Digital Platform प्रदान करना है और लेखकों की रचनाओं को दूर दूर तक पहुंचाना है जिससे अधिक से अधिक लोग पढ़ सकें
  • हाँ, प्रकाशन बिल्कुल मुफ़्त है । बस आपको अपनी रचना Email या Whats App के माध्यम से भेजनी है तथा साथ मे रचना का शीर्षक ,विधा और अपना नाम और पता जरूर लिखें ।
  • रचना के प्रकाशित होने की सूचना Email तथा whats app के माध्यम से मिलेगी
  • आप रचनाओं को अधिक से अधिक शेयर कर के बोलती ज़िंदगी को सपोर्ट कर सकते है । और अधिक सपोर्ट करने के लिए आप donation(दान ) भी दे सकते है ।