chaliye zindagi ko khubsurat bnate hai


चलिए सफ़र को खूबसूरत बनाते है

दोस्तों आज हम आपके लिए लाए है एक खूबसूरत लेख | ये लेख chaliye zindagi ko khubsurat bnate hai ज़िंदगी के ऊपर आधारित है |तो इस खूबसूरत लेख को पढिए और आनंद लीजिए |



ज़िन्दगी का सफ़र-

कहाँ भाग रहें है थोड़ा थम जाइए, कैसी जल्दी है ,कहाँ जाना है ?
ज़िन्दगी तो सफ़र है जिसका एक पड़ाव जन्म और दूसरा पड़ाव मृत्यु है , तो चलिए सफ़र को खूबसूरत बनाते है |
आपको आप से रुबुरु कराते है , अपने आस पास की प्रकृति की सुन्दरता को निहारिये, उनसे बातें करिए , ये प्रकृति हमसे बात करती है परन्तु आज हम लोगों ने इनसे दूरियाँ बना ली है और मुर्दाशांति से भर गये है | जब भी वक़्त मिले तो प्रकृति के साथ समय गुजारिये, काफी अच्छा महसूस होगा, दिल को सुकून मिलेगा |


तो चलिए आज ज़िन्दगी से बातें करते है -





नदियों मे उठ रही जल धारा की हिलोरो को महसूस करिए , कितनी उत्साह से भरी होती है ये जलधाराएं , ये भी तो एक किनारे से दूसरे किनारे तक का सफर कर रही है लेकिन ये कभी मुर्दाशांति से नहीं भरती,ये इतनी खुशनुमा होती है कि सूर्य और चन्द्रमा की किरणें भी इनके साथ खेलने लगती है

ये हमेशा से हमे सिखाती आ रही है ज़िन्दगी जीने के तरीके, लेकिन हम आज कल अपने आस पास की प्रकृति से दूर होते जा रहे है और इसका परिणाम हमे अवसाद, बोझिलता, अकेलापन और निराशा के रूप मे मिल रहा है



अगर ऐसा कभी महसूस हो, तो समझ जाइए आपको एक ठहराव की जरूरत है. अब आपको खुद की जरूरत है | आपको प्रकृति से मिलने की जरूरत है, कभी पेड़ों को गले लगाकर देखे वो मौन खड़े वृक्ष आपको एक खुशी का अनुभव दे देंगे , वे महसूस करा देंगे कि वो आपके अपने है आप अकेले नहीं है |
निकल जाइए एक हरियाली से भरी roadtrip पर, महसूस करिए ठंडी हवाओं को जो आपके मन से मुर्दाशांति को खत्म करके उत्साह से भर देंगी |कितना कुछ बाकी है दुनिया में अभी देखने को ,करने को,परखने को पर हम निराशाओं से घिर कर अवसाद में डूब जाते हैं |

ज़िन्दगी को बोझिल और उबाऊ ना बनाएं इसे एक खूबसूरत सफर बनाये |ये दुनिया सम्भावनाओं से भरी पड़ी है जरुरत है तो बस सकारात्मक नजरिये की |



Read more post-

Next Post Previous Post
No Comment
Add Comment
comment url